प्रदेशभर में एंबुलेंस सेवा 108 और खुशियों की सवारी के पहिये थमे, जानिए क्यों ?

0
471

देहरादून

उत्तराखंड में आने वाले कुछ दिन मरीजों के लिए मुसीबत भरे साबित हो सकते हैं। मांगें पूरी न होने से नाराज 108 एंबुलेंस सेवा के 717 फील्ड कर्मचारी आज से सामूहिक कार्य बहिष्कार पर चले गए हैं। इसके चलते प्रदेशभर में एंबुलेंस सेवा 108 और खुशियों की सवारी के पहिये थमे रहेंगे।

नए साल के दूसरे दिन प्रदेश में 108 एंबुलेंस और खुशियों की सवारी के पहिया जाम हो गए हैं जिसके चलते प्रदेश की जनता को दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है वहीं सरकार के लिए अब यह टेढ़ी खीर साबित होती भी नजर आ रही है।

दरसल 108एंबुलेंस सेवा कर्मचारिय़ों की मानें तो 14-15 अगस्त का काटा गया वेतन लौटाने, प्रत्येक माह की पांच तारीख तक वेतन भुगतान करने, कर्मचारियों की समस्याओं के समाधान के लिए समिति गठित करने, कर्मचारी विरोधी नीतियां न लागू करने की मांग को लेकर कर्मियों ने प्रबंधन से बातचीत की कोशिश की थी लेकिन प्रबंधन वार्ता केलिए तैयार नहीं हुआ जिसके चलते उन्हें मजबूर होकर सामूहिक कार्य बहिष्कार पर जाना पड़ रहा है।

वहीं 108सेवा के महाप्रबंधक मनीष टिंकू का कहना है कि कर्मचारियों की ब्लैकमेलिंग के आगे नहीं झुका जाएगा। मामला हाईकोर्ट में चलरहा है । साथ ही उन्होंने कहा कि प्रदेश में एस्मा लागू है। बावजूद उसके कोई हड़ताल करता है, तो उसेबर्खास्त करने की कार्रवाई की जाएगी। प्रदेश में 108 सेवा की 139 एंबुलेंस और 95 खुशियों की सवारी चल रही हैं। कर्मचारियों के सामूहिक कार्यबहिष्कार पर जाने से इन सभी वाहनों का संचालन पूरी तरह तरह ठप रहेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here