भारतीय सेना को मिले 347 युवा अफसर, विदेशी कैडेट्स भी शामिल

0

देहरादून, राज्य ब्यूरो 

वो जोश, वो जुनून, जो देखते ही बनता है, ताकत वतन की इनसे है, ये है भारत माता के रखवाले। देश की आन बान ओर शान के पहरी, जो कदम कदम मिलाए जा खुशी के गीत गाये जा के साथ ही अब तैयार खड़े है भारत माता के खातिर अपने प्रांण तक न्यौछावर करने के लिए।

भारतीय सैन्य अकादमी (आईएमए) से पासआउट होकर अंतिम पंग पार कर ये 347 जांबाज अफसर भारतीय सेना का हिस्सा बन गए है। वही इस बार मित्र राष्ट्रों के 80 कैडेट्स भी पासआउट हुए है। उपसेना प्रमुख लेफ्टिनेंट जनरल देवराज अन्बु ने परेड की सलामी ली। और बहादुर कैडेट्स को पुरस्कृत किया ।
शनिवार सुबह आईएमए की ऐतिहासिक चेटवुड बिल्डिंग के सामने मैदान में ड्रिल स्क्वायर पर कदमताल करते हुए 427 जेंटलमैन कैडेट्स अंतिम पग पार कर सेना में अफसर बन गए है । वही इनके साथ ही 80 विदेशी जीसी भी शामिल हैं। जैसे ही जीसी अंतिम पग पार किया ।वैसे ही  आईएमए के इतिहास में देश को 61,077 अफसर देने का रिकॉर्ड जुड़ गया है। जिसमे  2182 विदेशी जेंटलमैन कैडेट्स भी शामिल हैं।
देश के इन राज्यों से बने इतने सैन्य अधिकरी 
  • उत्तर प्रदेश 53
  • हरियाणा 51
  • बिहार 36
  • उत्तराखंड 26
  • दिल्ली 25
  • महाराष्ट्र 20
  • हिमाचल प्रदेश 15
  • पंजाब 14
  • जम्मू कश्मीर 12
  • राजस्थान 12
  • मध्य प्रदेश 10
  • झारखंड 06
  • कर्नाटक 08
  • केरल 08
  • वेस्ट बंगाल 08
  • असम 05
  • उड़ीसा 05
  • तमिलनाडु 05
  • तेलंगा 05
  • आंध्र प्रदेश 04
  • गुजरात 04
  • चंडीगढ़ 04
  • मणिपुर 03
  • छत्तीसगढ़ 02
  • मेघालय 01
  • पुडुचेरी 01
सात मित्र देश के बने सैन्य अधिकारी 
  • अफगानिस्तान 49
  • भूटान 15
  • मालदीप 5
  • तजाकिस्तान 05
  • नेपाल 02
  • श्रीलंका 02
  • वियतनाम 02

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here